• Mon. May 20th, 2024

झाड़फूंक के चक्कर मे फिर गई एक युवक की जान, बीमारी ठीक करने के चक्कर मे बैगा ने गर्म त्रिसूल से शरीर मे दागा , इंफेक्शन से युवक की हुई मौत आरोपी बैगा गिरफ्तार।

Ashutosh Gupta

ByAshutosh Gupta

Nov 1, 2022

आशुतोष गुप्ता

मस्तूरी थाना अंतर्गत मल्हार चौकी क्षेत्र के ग्राम जुनवानी में बैगा ने एक युवक की जान ले ली. बताया जा रहा है कि युवक कुछ महीनों से तबियत खराब था. जिससे परिजन इलाज के लिए बैगा के पास पहुंचे. बैगा युवक को 4 दिन तक अपने घर जुनवानी में रखकर गर्म नांगर पट्टी और त्रिसूल से उसके शरीर पर दागता रहा.जिससे इंफेक्शन से उसकी मौत हो गई. पुलिस आरोपी बैगा को गिरफ्तार कर लिया है।ग्रामीण क्षेत्रों में आज भी अंधविश्वास चरम पर है. ऐसा ही एक मामला रतनपुर थाना क्षेत्र में आया. जहां बीमार ग्रामीण का इलाज अस्पताल में चल रहा था. उसके स्वास्थ्य में सुधार नहीं होने पर परिवार वाले उसे रिस्ते में मामा लगने वाले बैगा के पास ले गए तो बैगा ने 4 दिन तक अपने घर में रखकर उसे रस्सी से बांधकर गर्म नांगर पट्टी और त्रिसूल से दागता रहा. इसके बाद उसे घर भेज दिया. जलने से युवक के शरीर में इंफेक्शन हो गया और 4 दिन बाद उसकी मौत हो गई.
गर्म नांगर पट्टी और त्रिसूल से शरीर पर 20 बार से अधिक बार दागा रतनपुर पुलिस के अनुसार 30 अक्टूबर को ग्राम पोड़ी के सरपंच ने पुलिस को सूचना दी कि गांव के ही फेकूराम निर्मलकर उम्र 35 वर्ष की संदिग्ध परिस्थितियों में घर पर मौत हो गई. उसके पूरे शरीर में जलने के निशान बने हुए हैं. घरवाले उसका अंतिम संस्कार करने की तैयारी में लगे हैं. सूचना को गंभीरता से लेते हुए पुलिस उसके घर पहुंची. मृतक के शरीर को देखा जिस पर 20 से ज्यादा जगह पर जलने के निशान थे. पूछताछ में मृतक की पत्नी ने बताया कि “पिछले 4 माह से पति की तबियत खराब थी. वह अस्पताल में उसका इलाज करा रही थी. बावजूद उसके स्वास्थ्य में सुधार नहीं हो रहा था. इस दौरान उन्हें जानकारी मिली कि उनके रिश्तेदारी में मामा लगने वाले मल्हार चौकी क्षेत्र के जुनवानी में रहने वाले लीला रजक झाड़ फूंक का काम करता है. उसे ठीक कर देगा. उसने बैगा से बातचीत की तो लीला रजक ने ठीक करने का आश्वासन देते हुए अपने घर लेकर आने का कहा. 23 अक्टूबर को पति फ़ेकूराम निर्मलकर को लेकर उसके घर पहुंची. 26 अक्टूबर तक बैगा ने दोनों को अपने ही घर पर रख झाड़फूक कर पीड़ित को रस्सी से बांधकर नांगर पट्टी और त्रिसूल से जलाता रहा. बैगा ने पीड़ितों को बताया कि 27 अक्टूबर को स्वास्थ्य में सुधार हो जाएगा और वापस घर भेज दिया.घर पहुंचने के बाद मानसिक रोगी उसी हालत में 4 दिन तक रहा. इस दौरान शरीर में इंफेक्शन होने से 30 अक्टूबर को उसकी मौत हो गई. पुलिस ने मर्ग कायम कर शव को कब्जे में लिया. पोस्टमार्टम कराकर शव परिजन को सौंप दिया वही. मर्ग डायरी मल्हार पुलिस को भेजा गया जिसके बाद पुलिस ने आरोपी बैगा को 302 के तहत गिरफ्तार कर लिया है।एवं आगे की जांच में जुट गई है।

error: Content is protected !!
Latest
सेजेस सीपत में 18 मई को होगी प्रवेश प्रक्रिया पूरी ऑनलाइन व ऑफलाइन मिला है आवेदन, अधिक आवेदन हो... आरोपी द्वारा जमीन बटवारा रंजिश को लेकर पिता का किया हत्या । *हत्या के 48 घंटों के भीतर सीपत पुलिस ... *धारदार हथियार से किसान की गला रेतकर हत्या... सीपत क्षेत्र में फैली सनसनी*  सीपत पुलिस जांच में जुटी बिग ब्रेकिंग : कल से सभी स्कूल बंद, भीषण गर्मी को देखते स्कूल शिक्षा विभाग का फैसला, देखिए आदेश.… बड़ी खबर : 18 नक्सली ढेर, BSF इंस्पेक्टर, DRG के 2 भी जवान.. घायल.. मस्तूरी क्षेत्र में किसान की जमीन पर मिशन जता रहा अपना अधिकार...दीवार खड़ी कर कब्जा करने की कोशिश, क... श्री देवी भागवत महापुराण जीवन को मुक्ति की मार्ग प्रदान करती है,,,आलोक मिश्रा शिक्षको ने रैली के माध्यम से दिया मतदाता जागरूकता का संदेश मतदान देश के उज्ज्वल भविष्य की प्रतिबिंब...  *बिलासपुर लोकसभा कांग्रेस प्रत्याशी देवेंद्र यादव के पक्ष में कन्हैया कुमार ने मस्तूरी विधानसभा क्ष... श्रीमद् भागवत कथा मनुष्य की सभी इच्छाओं को पूरा करती है... आचार्य तिवारी