• Sat. Jun 15th, 2024

भारी विरोध के बीच एसीसी कंपनी की जनसुनवाई हुई रद्द…

Ashutosh Gupta

ByAshutosh Gupta

Nov 3, 2022

अशुतोष गुप्ता

मस्तूरी – विकास खण्ड के पचपेड़ी थाना क्षेत्र के ग्राम गोडाडीह, बोहारडीह एवं लोहर्सी में स्थापित मेसर्स एसीसी लिमिटेड कम्पनी ने अपनी वर्तमान उद्योग की विभिन्न ईकाईयों के विस्तार के लिए पर्यावरण संरक्षण मण्डल, रायपुर में आवेदन किया था।
जिसका स्वीकृति के पूर्व आम जनता का अभिमत जानने के लिए आज 3 तारिक को ग्राम लोहर्सी में जिला प्रशासन द्वारा लोक सुनवाई का आयोजन किया गया था। जिसका आसपास के ग्रामीण एवं युवा कांग्रेस के कार्यकर्ताओ, नेताओं ने भारी विरोध पर्दशन किया।

विरोध प्रदर्शन में सैकड़ो कुर्सियों को तोड़ दिया गया।वही पुलिस मुखदर्शक बनी देखती रही। जनसुनवाई में पीठासीन अधिकारी बनकर पंहुचे बिलासपुर एडीएम, मस्तूरी एसडीएम एवं तहसीलदार को जनसुनवाई में भारी विरोध प्रदर्शन का सामना करना पड़ा एवं जनसुनवाई के लिए बने मंच से अधिकारियों को भागना पड़ा भारी पुलिस बल मौके पर पंहुचे जिसके बाद अधिकारी जनसुनवाई के लिए बने मंच पर 30 मिनट बाद वापस पंहुचे।

फिर भी ग्रामीण और जनसुनवाई में पंहुचे युवा कांग्रेस के कार्यकर्ता और नेतागण नही माने जिसके बाद एडीएम ने आज के जनसुनवाई का स्थगन लिखकर दिया जिसके बाद ग्रामीण एवं नेतागण शांत हुए।

जनसुनवाई प्रभावित क्षेत्र से बाहर किया जा रहा था आयोजित…

प्रभावित ग्रामीणों ने एसीसी कंपनी के ऊपर आरोप लगाया है कि कंपनी द्वारा प्रभावित एरिया के ग्रामीणों को धोखे में रख प्रभावित एरिया से 4 किलोमीटर दूर जनसुनवाई करने आयोजन कराया गया जो कि गलत है।

नदी और जंगल होंगे प्रभावित…

ग्रामीणों ने बताया कि कंपनी जिस एरिया में खुल रही रही है वहां से नजदीक ही दो नदिया लीलागर एवं शिवनाथ नदी बहती है एवं पास ही जंगल स्थित है।जहां वन प्राणी हिरण, चीतल जंगली सुअर आदि जीव मौजूद है कंपनी खुलने से जंगल मे मौजूद वन जीव प्राणी को काफी नुकसान पहुँचेगा।

जनसुनवाई में बाहरी लोगों की दखल..

लोहर्सी जनसुनवाई में पहूंचे नेतागण एवं बाहर से आय हुए लोगो का लोकल ग्रामीणों ने विरोध किया उन्होंने बताया कि जनसुनवाई हम प्रभावित लोगों के लिए है, जहाँ बाहरी लोग आकर जबर्दस्ती विरोध प्रदर्शन कर रहे है जो गलत है। एसीसी कंपनी से नफा नुकसान का संबंध हम ग्रामीणों से है बाहर से राजनीति चमकाने आये लोगो से नही।

2019 में भी जनसुनवाई हो चुकी है स्थगित..

पर्यावरण स्वीकृति के लिए 2019 में भी जनसुनवाई का आयोजन किया गया था, लेकिन ग्रामीणों के साथ ही जोगी समर्थकों ने प्रदर्शन कर जमकर विरोध किया गया था और हंगामा हुआ था, जिसके बाद जनसुनवाई स्थगित कर दी गई थी।

You missed

error: Content is protected !!
Latest
17 जून सोमवार को ईद उल अजहा (बकरीद) पर्व के अवसर पर सीपत थाना में शान्ति समिति की हुई बैठक *घटना सीपत थाना का* *धारदार हथियार कैची से प्राणघातक हमला, फरार आरोपी 24 घंटे के अंदर गिरफ्तार* *... सुनील शिक्षण संस्थान के तत्वाधान में सफलता उत्सव एवं प्रतिभा सम्मान समारोह का आयोजन किया. प्रतिभ... *सीपत थाना क्षेत्र ग्राम करमा में चेतना पथ कार्यक्रम में लोगो का दिख रहा उत्साह* *एक बूंद खून सड़क ... *ग्राम हरदाडीह में एकदिवसीय शिव विवाह कथा का आयोजन,,, देर रात तक श्रोताओं की लगी रही भीड़* *भगवा... *लोगों की जान बचाए अपने घर में खुशियां लाए,,,, अर्चना झा* *सीपत थाना क्षेत्र हिंडाडीह में चेतना ... वाइब्रेंट एकेडमी के छात्रों ने नीट में शानदार रिजल्ट लाकर बढ़ाया संस्थान का मान *एनटीपीसी सीपत द्वारा 12 लाख से अधिक वृक्षारोपण , पर्यावरण संरक्षण के प्रति प्रतिबद्धता का प्रतीक*  *सीपत थाना क्षेत्र ग्राम कौड़िया में चेतना पथ कार्यक्रम आयोजित* *छोटी सी लापरवाही पारिवारिक जीव... *सीपत थाना क्षेत्र ग्राम बनियाडीह में चेतना पथ कार्यक्रम आयोजित* *नशा से मुक्ति जीवन सुरक्षित,,,...